केजरीवाल को फिर 15 अप्रैल तक न्यायिक हिरासत में भेजा गया

New Update
Kejri

नई दिल्ली: दिल्ली की एक अदालत ने सोमवार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को देश में लोकसभा चुनाव के लिए मतदान शुरू होने से तीन हफ्ते से भी कम समय पहले खत्म हो चुकी शराब नीति से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में 15 अप्रैल तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया।

प्रवर्तन निदेशालय की हिरासत खत्म होने के बाद केजरीवाल को विशेष न्यायाधीश कावेरी बावेजा की अदालत में पेश किया गया।

जांच एजेंसी ने केजरीवाल की 15 दिन की न्यायिक हिरासत की मांग की और अदालत से कहा कि उन्हें बाद की तारीख में और हिरासत की आवश्यकता हो सकती है।

ईडी की ओर से पेश अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल एस.वी. राजू ने कहा कि आम आदमी पार्टी (आप) सुप्रीमो हिरासत के दौरान "असहयोगी" रहे हैं और जवाब देने में "टाल-मोल" करते रहे हैं।

राजू ने कहा, "उन्होंने जानबूझकर इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों को पासवर्ड नहीं दिए हैं।"

अदालत में प्रवेश करने से पहले पत्रकारों से बात करते हुए आप नेता ने कहा, "प्रधानमंत्री जो कुछ भी कर रहे हैं (अपनी गिरफ्तारी का जिक्र करते हुए) वह देश के लिए अच्छा नहीं है।"

आप मंत्री आतिशी, सौरभ भारद्वाज और केजरीवाल की पत्नी सुनीता केजरीवाल अदालत में मौजूद थे।

Advertisment